हाथ मिलाने से शक्ति का ह्रास
Next Article स्नान हो तो ऐसे
Previous Article नामोचारण का फल

हाथ मिलाने से शक्ति का ह्रास

भारतीय अध्यात्म-विज्ञान के अनुसार,हाथ मिलाने से अपने शरीर की संचित दिव्य शक्ति दूसरे व्यक्ति के शरीर में प्रवेश करती है।"
हाथ मिलाने से शक्ति का ह्रास किस प्रकार से.. ??
★प्रत्येक मानव के शरीर में अनेक जीवाणु होते हैं । हाथों में जीवाणु होने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता,हाथ मिलाने से रोगाणुओं का और उनके माध्यम से संक्रामक बीमारियों का आदान-प्रदान होता है।

★यदि आप अधिक-से-अधिक व्यक्तियों से हाथ मिलाते हैं तो थकान भी महसूस कर सकते हैं।

★हाथ जोड़कर नमस्कार करने से जितनी मर्यादा रहती है,उतनी हाथ मिलाने से नहीं रहती। 

★सात्विकता और स्वास्थ्य चाहने  वाले हाथ मिलाने की आदत से बचें।

अतः सदैव भारतीय शिष्ट परंपरा के अनुसार हाथ जोड़कर नमस्कार करना हितकारी है। हाथ मिलाना हानिकारक है।
Next Article स्नान हो तो ऐसे
Previous Article नामोचारण का फल
Print
5433 Rate this article:
5.0
Please login or register to post comments.
RSS
First2345791011Last