वैज्ञानिक बनने के गुण
Next Article गुरुपूर्णिमा महत्सव :२७ जुलाई
Previous Article उन्नति की उडान

वैज्ञानिक बनने के गुण

एक बच्चे को बाल्यावस्था से ही वैज्ञानिक बनने की लगन थी लेकिन उसके विकास में सबसे बड़ी बाधा थी उसकी गरीबी । 

उसकी माँ ने सोचा कि गरीबी के चलते उसके पुत्र की यह अभिलाषा कभी पूर्ण नहीं हो सकती । अतः वह अपने बच्चे को एक वैज्ञानिक के पास विज्ञान की शिक्षा के लिए ले गयी । 

उस वैज्ञानिक ने बच्चे के हाथ में झाडू पकड़ायी और
प्रयोगशाला की सफाई का कार्य सौंप दिया । 
 बच्चे ने खूब लगनपूर्वक प्रयोगशाला की सफाई की और छोटी-से-छोटी चीज को भी सँभालकर साफ किया और उसे उसकी जगह पर रखा । 

वैज्ञानिक ने बच्चे की लगन को देखकर उसकी माँ से कहा : ‘‘इसे आप मेरे पास छोड़ दीजिये । इसमें वैज्ञानिक
बनने के गुण हैं,एक दिन यह अवश्य ही वैज्ञानिक बनेगा।"

 दक्षता, लगन व स्वच्छता ऐसे गुण हैं,जिनसे किसी भी व्यक्ति में महानता की अभिवृद्धि होती है । वही बच्चा आगे चलकर प्रसिद्ध वैज्ञानिक थामस एल्वा एडीसन बना । 

 ✔सीख : जो व्यक्ति किसी भी कार्य को छोटा नहीं समझते तथा बड़ी
लगन,सावधानी, तत्परता एवं दक्षतापूर्वक करते हैं,वे अवश्य महान कार्य करने में सफल हो जाते हैं ।
यदि कार्यदक्षता के साथ एकमात्र ईश्वर की प्रसन्नता पाने का लक्ष्य बन जाय तब तो भगवत्प्राप्ति भी सुगम हो जाती है ।

✒प्रश्नोत्तरी : (1) बच्चे ने अपना कार्य किस तरह से किया ?
Next Article गुरुपूर्णिमा महत्सव :२७ जुलाई
Previous Article उन्नति की उडान
Print
4911 Rate this article:
5.0
Please login or register to post comments.
RSS
First2345791011Last